शिकायत निस्तारण में विलंब पर होगी सख्त कार्रवाई: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Wednesday, November 20, 2019

शिकायत निस्तारण में विलंब पर होगी सख्त कार्रवाई: डीएम

शिकायतों का गुणवत्ता परक ढंग से किया जाए निस्तारण 
संपूर्ण समाधान दिवस में सख्त नजर आए जिलाधिकारी 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । जिलाधिकारी हीरा लाल अधिकारियों को निर्देेशित करते हुए कहा कि शिकायतों का गुणवत्तापरक निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। शिकायतों के निस्तारण में अनावश्यक विलंब करने पर सम्बन्धित अधिकारियों के खिलाफ कठोर कारवाही की जायेगी उक्त विचार तहसील पैलानी में सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान व्यक्त किये। जिलाधिकारी ने सभी जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि मौके पर जाकर शिकायत कर्ता की समस्या को सुने और सुलझायें तथा मौके पर तहरीर लेकर समस्या का समाधान प्रार्थना पत्र के आधार पर शीघ्र किया जाना सुनिश्चित करें जिससे फरियादियों को न्याय के लिए इधर-उधर भटकना न पडेे। 
उन्होंने जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि किसी भी आॅफिस में गन्दगी नजर नही आनी चाहिए हर आॅफिस ताज महल की तरह चमकते नजर आना चाहिए किसी भी दिन किसी भी समय जिलाधिकारी के द्वारा किसी भी आॅफिस का निरीक्षण किया जा सकता है यदि उस समय मिली गन्दगी तो सीधे टर्मिनेट करने की कारवाही की जायेगी और जितने भी अधिकारी/कर्मचारी सरकारी आवासों का प्रयोग कर रहे हैं उन सभी की नैतिक जिम्मेदारी बनती है कि अपने घर के साथ-साथ आॅफिस को भी साफ-सुथरा बनाये रखें यदि किसी कर्मी के द्वारा अपने पटल का कार्य करने में असमर्थता जतायी जाती है तो उसको बाहर का रास्ता देखना पडे़गा अन्यथा अपने कार्यों में सुधार लाये और रूचि लेकर कार्य करे जिसके लिए सरकार हम सभी को वेतन देती है और यदि जर्जर बिल्डिगं है तो उसको कण्डम घोषित कर नियमानुसार नई के लिए प्रस्ताव बनाकर जिलाधिकारी की तरफ से शासन को पत्राचार किया जाए। 
सम्पूर्ण समाधान दिवस में राजस्व, विद्युत एवं विकास कार्यों की अधिक शिकायतें प्राप्त होने पर जिलाधिकारी ने नराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि यदि अपने-अपने कार्य एवं दायित्वों का निष्ठा पूर्वक निर्वहन नही किया गया तो कठोर कार्यवाही के लिए तैयार रहें। पूर्व तहसील दिवस के आये प्रकरणों की भी जानकारी ली और कहा कि उनका समय पूर्वक निस्तारण किया गया कि नही यदि नही तो इसका कारण स्पष्ट किया जाए तथा अन्य शिकायतों के निस्तारण हेतु जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि फरियादियों की शिकायतों का गम्भीरता पूर्वक सुना जाए और प्राथमिकता के साथ मौके पर जाकर निस्तारण किया जाए और इसकी रिपोर्ट जिलाधिकारी को की जाए। उन्होंने समस्त जिलास्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि आने वाली शिकायतों की साप्ताहिक समीक्षा करें और मौके पर जाकर लोगों को बयान लेकर हस्ताक्षर कराकर समस्या का समाधान किया जाए। यदि बिना मौका मुआयना किए कोई भी जिलास्तरीय अधिकारी शिकायतों को निस्तारण

पैलानी तहसील में समस्याएं सुनते जिलाधिकारी हीरालाल व अन्य अधिकारी 
किया तो उसके खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि हर अधिकारी कुछ न कुछ उल्लेखनीय कार्य करे जिससे बांदा का विकास हो सके। इसके बाद जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने कौमी एकता की समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों का शपथ दिलाई और कहा कि सभी लोग आत्मनिष्ठा और ईमानदारी के लगनपूर्वक कार्य करें। उन्होंने कहा कि सभी जिला स्तरीय अधिकारी खाना बनाए जाने से लेकर खाने-पीने तक में मिट्टी के बर्तनों का प्रयोग किया जाए औैर चाइना से बनी चीजों का परित्याग किया जाए। 
जिलाधिकारी हीरालाल ने तहसील दिवस के बाद पूरे तहसील परिसर का मुआयना किया और तहसील परिसर में बाउण्ड्री वाल कराये जाने के लिए निर्देशित किया और वृक्षारोपण भी कराए जाने के लिए कहा। तहसील के मीटिंग हाल को ई-मीटिंग हाल में कनर्वट किए जाने को निर्देशित किया। इसके बाद जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने तहसील में बनी नेकी की दीवार को भी देखा और लोगों से अपेक्षा किया कि जिसके यहां अतिरिक्त कपड़ेें हो वो यहां पर अपना सहयोग करें जिससे गरीबों को मदद मिल सके और इसके बाद गरीबों कों खिचड़ी वितरण की गई। उन्होंने उपजिलाधिकारी पैलानी को निर्देशित करते हुए कहा कि तहसील भवन के सामने बड़े और सुनहरे अक्षरों में तहसील पैलानी लिखवाना सुनिश्चित करें जिससे दूर से शाइन करे कि यह तहसील है। उन्होंने कहा कि जितने भी कार्यरत यहां कर्मचारी है उन सभी का पुनः वर्क डिस्ट्रीब्यूशन किया जाए। इसके बाद दस बड़े बकाएदारों की सूची देखते हुए जिलाधिकारी ने तहसीलदार को निर्देशित करते हुए जिस विभाग के ये है उन्हें बुलाकर उन से मदद लेकर डिस्पोजल कराने की प्रक्रिया अपनाई जाए। 
जिलाधिकारी ने मुआयने के दौरान खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के बाबू से जानकारी लेते हुए कहा कि राशन कार्ड बनने में आने वाली समस्याओं के विषय में जानकारी प्राप्त की तो खाद्य लिपिक केे राजेश के द्वारा बताया गया कि प्राइवेट लड़के को बुलाकर आधार फीडिंग, सीडिंग तथा राशन कार्ड बनने तक की प्रक्रिया को इसके द्वारा कराया जाता है। जिसमें जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि यदि दोबारा प्राइवेट के लड़के के द्वारा काम लिया गया तो सम्बन्धित के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी। इसके बाद जिलाधिकारी ने चकबंदी लेखपालों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने-अपने सम्बन्धित गांव में डुग्गी पिटवाकर लोगों को जानकारी दी जाए कि कल चकबंदी अधिकारी आएंगे जिनकी जो समस्याएं हो चैपाल लगाकर उनकी समस्याओं का प्राथमिकता के साथ निस्तारण किया जाए। इसके बाद विद फोटोग्राफ्स के की गई कार्यवाही की रिर्पोटिंग जिला प्रशासन को की जाए। इसके बाद जिलाधिकारी ने थाना पैलानी का आकस्मिक निरीक्षण किया। उन्होंने क्षेत्रीय पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश को निर्देशित करते हुए कहा कि थाने के चारो तरफ बाउण्ड्री करवाकर और पौधों की कटाई-छटाई कराकर थाना परिसर में फूलदार, फलदार और सीजनल पौधे लगाए जाए और बिल्डिंगे पुरानी हो गई है उन्हें नियमानुसार कार्यवाही कर कण्डम घोषित की जाए तथा नई बिल्डिंग के लिए प्रस्ताव बनाकर भेजा जाए और अन्दर खाली पड़ी जमीन में एक छोटा पार्क बनाए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने जल संचयन के उपाय किए जाने के सम्बन्ध में भी कहा और पिछले तीन थाना दिवसों की निस्तारण की प्रगति रिर्पोट देखी और सम्बन्धित को निर्देशित करते हुए कहा कि मौका मुआयना करके फरियादियों की समस्याओं का समाधान किया जाए जिससे न्याय के लिए इधर-उधर न भटकना पड़े। उन्होंने थानाध्यक्ष श्रवण कुमार सिंह को निर्देशित करते हुए कहा कि पूरे स्टाफ को एक-एक पौधा एलाट कर पूरे परिसर में पौधा रोपण कराकर हरियाली का संदेश दिया जाए।   
पुलिस अधीक्षक गणेश प्रसाद साहा ने सम्बन्धित पुलिस क्षेत्राधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि शिकायत कर्ता की शिकायत प्राथमिकता के साथ निस्तारित की जाए और उसके साथ विनम्रता का व्यवहार किया जाए और अपराधी को कानूनी कारवाही कर जेल भेज दिया जाए। यदि कहीं कोई अवैध अतिक्रमण करते पाया जाए तो उसे शीघ्र ही जेल भेज दिया जाए।
सम्पूर्ण समाधान दिवस में उपस्थित मुख्य विकास अधिकारी हरिश्चन्द्र वर्मा, सी0एम0ओ0 डा0 संतोष कुमार, प्रभागीय वनाधिकारी संजय अग्रवाल, एस0डी0एम0 पैलानी मंसूर अहमद, डीआरडीए मनरेगा पीडी आर पी मिश्रा, जिला विद्यालय निरीक्षक विनोद कुमार सिंह, जिला बेसिक शिक्षाधिकारी हरिश्चन्द्र नाथ, तहसीलदार पैलानी राजीव कुमार निगम, अधिशासी अभियंता जल संस्थान बीरेन्द्र श्रीवास्तव, अपर जिला सूचना अधिकारी कु0 शारदा सहित सम्बन्धित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages