Latest News

सितमगर पुलिस पर कार्रवाई के लिए अनशन

घर में घुसकर मारपीट और लूटपाट का आरोप 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । न्याय पाने के लिए अधिवक्ता ने अपने परिवार के साथ अशोक स्तंभ के नीचे अनशन शुरू कर दिया है। मामला पुलिस द्वारा घर में घुसकर मारपीलट करने और लूटपाट का है। ऐसा आरोप लगाते हुए अधिवक्ता अनशन पर बैठ गया है और कार्रवाई की मांग की है। यह भी बताया कि अवगत कराने के बावजूद पुलिस अधिकारियों ने कोई कार्रवाई नहीं की। चेतावनी दी है कि मागें पूरी न होने तक परिवार समेत अनशन पर डटा रहेगा। 
अनशन पर परिवार समेत बैठा अधिवक्ता 
पैलानी थाना क्षेत्र के निवाइच गांव निवासी अधिवक्ता रवि भूषण ने पुलिस की हरकत के खिलाफ शुक्रवार से स्वतंत्रता स्मारक अशोक लाट में अनशन शुरू कर दिया। अधिवक्ता ने बताया कि तीन दिनों पूर्व खप्टिहकलां चैकी प्र भारी ने पुलिस कर्मियो के साथ उसके घर में घुसकर परिजनों के साथ मारपीट की। अनशन को 24 घंटे बीत जाने के बाद  भी प्रशासन ने उनकी कोई सुध नहीं ली। सर्दीली रात में पूरे परिवार को अनशन करना पड़ रहा है। अधिवक्ता ने पुलिस उच्चाधिकारियों से मांग की कि उक्त प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच कराते हुए दोषी पुलिस कर्मियों पर रिपोर्ट दर्ज कर निलंबित किया जाए। आरोप है कि मारपीट के दौरान पुलिस कर्मियों ने रुपये और मोबाइल फोन छीन लिया। जाति सूचक शब्दों का इस्तेमाल करते हुए प्रार्थी के परिवार का शांति  भंग मे चालान कर दिया। बताया कि वह जिला अधिवक्ता संघ का सदस्य है। पुलिस कर्मियों की पिटाई से पूरा परिवार डरा और सहमा है। मामले की जानकारी उच्चाधिकारियों को देने के बाद  भी दोषी पुलिस कर्मियों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। दोषी पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई न होने पर उसे अपने परिवार के साथ अनशन पर बैठने को मजबूर होना पड़ा।

No comments