Latest News

बनाजी के जिलाध्यक्ष बनते ही जालौन में जमकर चली बारूद

पहली बार भाजपा की जिलाध्यक्षी पहुंची जालौन नगर
समर्थकों ने मिष्ठान बांटकर जतायी खुशी

जालौन (उरई), अजय मिश्रा । देश व प्रदेश की सत्ताधारी पार्टी भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश नेतृत्व द्वारा रामेन्द्र सिंह सेंगर बना जी पर विश्वास जताकर जिलाध्यक्ष बनाये की खबर मिलते ही नगर में उत्सव जैसा माहौल है तथा नगर में जगह जगह मिठाई बांटकर खुशी मनाई जा रही है। गुरुवार की सुबह सुबह होने से पूर्व जैसे ही नगर में यह खबर आयी कि रामेन्द्र सिंह सेंगर उर्फ बना जी को भाजपा का जिलाध्यक्ष बनाया गया है वैसे ही उनके समर्थकों में खुशी दौड़ गयी। उनके समर्थक उनके घर के बाहर एकत्रित हो गये तथा बारूद चलाकर एक दूसरे को मिठाई खिलाकर एक दूसरे को बधाई देने लगे। बोर से शुरू हुआ जश्न का माहौल अपरान्ह तक चलता रहा। नगर में देवनगर चैराहे, तहसील के पास, नगर पालिका के पास, सब्जी मंडी, बस स्टैंड समेत कई स्थानों पर बारूद चलायी गयी तथा मिठाई बांटी गयी।

निष्कर्षता व ईमानदारी बनी पहचान


छात्र जीवन से संघ व भाजपा के लिए कार्य करने वाले बना जी का सरल स्वभाव के साथ निष्पक्षता व ईमानदारी के कारण वह लोगों की पसंद हैं। यही कारण है कि उनके जिलाध्यक्ष बनने पर नगर में जश्न के साथ उत्सव जैसा माहौल बन गयी है तथा सभी जाति व धर्म के लोग खुशी मना रहे हैं। 

अपने पिता के इकलौते है पुत्र

सामान्य से परिवार में जन्मे तथा बैंक कर्मचारी लौना निवासी हाल निवासी बापू साहब महेन्द्र सिंह सेंगर के इकलौते पुत्र है रामेन्द्र सिंह सेंगर बना जी। सामान्य से घर में जन्में बना की प्रारम्भिक शिक्षा  सरस्वती शिशु मंदिर में हुई तथा कक्षा 6 से 12 तक की शिक्षा छत्रसाल इंटर कालेज में पूरी हुई। बीएससी की पढ़ाई उरई महाविद्यालय में पूरी की।

सबको साथ लेकर चलेंगेः बनाजी

मुझे संगठन ने जो जिम्मेदारी दी है, उसका निर्वहन मैं कार्यकर्ता के रूप में करूंगा। सभी को साथ लेकर चलूंगा। तन, मन, धन व पूर्व निष्ठा से पार्टी को आगे बढ़ाने का काम करूंगा। पार्टी नेतृत्व, राष्ट्रीय अध्यक्ष, प्रदेशाध्यक्ष व अन्य सभी वरिष्ठों के निर्देश व सबका साथ सबका विकास के नारे के साथ पार्टी को आगे बढ़ाने का काम किया जाएगा। हर कार्यकर्ता के मान सम्मान का भी ध्यान रखा जाएगा।

जीवन परिचय

लौना निवासी महेंद्र सिंह सेंगर निवासी लौना के घर  11 नवम्बर 1973 को उस समय खुशी आ गई थी जिस समय उनके घर इकलौते पुत्र रामेन्द्र सिंह सेंगर ने जन्म लिया था। वह और उनका परिवार बाल्यकाल से आरएसएस के स्वयं सेवक रहे हैं। 1990 में वह छत्रसाल इंटर कालेज में कालेज प्रमुख रहे। 1991 में वह नगर मंत्री रहे। 1992 व 1993 में वह जिला संयोजक रहे। 1996 में वह युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष बने। इसके बाद प्रदेश संगठन ने उन पर भरोसा किया तथा 2009 में उन्हें प्रदेश कार्य समिति का सदस्य बनाया गया। प्रदेश में पार्टी की सरकार बनने के 2017 में उन्हें कानपुर बुन्देलखण्ड क्षेत्रीय सदस्य बनाया गया जो आज भी बरकरार है। 

प्रदेश अध्यक्ष से नजदीकियों ने पहुंचाया मुकाम पर

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह उर्फ कांग्रेस सिंह की जनपद कर्म स्थली रही। शुरुआत के दौर से वह इनके खासम खास रहे तथा हर मोर्चे पर उनका सहयोग किया। प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद लखनऊ में प्रदेश अध्यक्ष द्वारा बनाजी की खुलकर तारीफ की थी। इसके बाद से खयास लगना शुरू हो गया था कि बना जी जिलाध्यक्ष बनने की दौड़ में सबसे आगे थे। यह कयास गुरुवार को चरितार्थ हो गया। 

नगर में पहली बार आयी जिलाध्यक्षी

प्रदेश व देश में सत्तारुढ़ पार्टी भाजपा में ऐसा पहली बार हुआ है कि जब नगर का कोई व्यक्ति जिलाध्यक्ष बना है। अभी तक जिलाध्यक्षी से लेकर सभी प्रमुख पद जनपद मुख्यालय तक सिमट कर रह जाता था। पहली बार नगर के लाल के जिलाध्यक्ष बनने पर खुशी का माहौल है।

No comments