Latest News

स्वास्थ्य योजनाओं का क्षेत्र में लाभ दिलायें आशा

सम्मेलन में सम्मानित की गई आशा, संगिनी

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में जगद्गुरू रामभद्राचार्य विकलांग विश्व विद्यालय के सभागार में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत आशा सम्मेलन का आयोजन हुआ।
जिलाधिकारी ने कहा कि आशाएं जनपद के भविष्य की निर्माता हैं। आशायें बहुत अच्छा कार्य कर रही हैं। अकांक्षा जिले में है। इस अकांक्षा के साथ कार्य करें। नीति आयोग के कई बिन्दुओं पर जनपद में कमी है। अभी बहुत कुछ करने की जरूरत है। टीम के पूरे सहयोग से जनपद कुपोषण से मुक्त होगा और माताएं, बच्चे स्वस्थ्य होंगी। आशा, आंगनबाड़ी, एएनएम गांव की त्रिदेव हैं। निर्वाचन में भी भूमिका निभाई। जो सेवा करें उसे सरकारी नौकरी की तरह न कर सेवाभाव से करें। केन्द्र सरकार व राज्य सरकार ने स्वास्थ्य की कई योजनाएं संचालित की है उन्हें अपने क्षेत्र में लाभ दिलाना है। अगर अपने क्षेत्र के बच्चों को परिवार का बच्चा, गर्भवती महिलाओं को माॅं, बहन, बेटी समझें तो कोई समस्या नहीं होगी। जब सुनते हैं कि किसी गर्भवती मां की मृत्यु हो गई तो लगता है कि क्या हम उसे बचा सकते थे। इस पर विचार करना होगा। क्षेत्र में जो जिस स्थिति के मरीज हैं उनका इलाज

करायें। जब मन स्वस्थ रहेगा तो जनपद व गांव स्वस्थ रहेगा। संस्थागत प्रसव को बढ़ायें और पूरी तरह से सेवा में तत्पर रहें। तभी पुण्य मिलेगा। पुण्य प्राप्त करना है तो परोपकार करें। संकल्प लें कि गांव का कोई भी बच्चा टीकाकरण से अछूता नहीं रहेगा तथा माॅं एनेमिक व बच्चा कुपोषण से मुक्त रहेगा। उन्होंने मुख्यमंत्री के संदेश को भी पढ़कर सुनाया और कहा कि मुख्यमंत्री ने जो अपील की है उसे मनोयोग से पूरा करायें। नगर पालिका परिषद कर्वी नरेन्द्र गुप्ता ने कहा कि नाम ही आशा है और जनपद भी आशा में जी रहा है। मुख्य चिकित्साधिकारी डा विनोद कुमार ने कहा कि आशाओं की समाज में अच्छी पहचान है। सराहनीय कार्य किया जा रहा है। ग्राम में योजनाओं को लागू करने में महती भूमिका है। गर्भवती महिलाओं के खाता अवश्य खुलवायें जो उन्हें सुविधा मिल रही है। उनका लाभ दिलवायें। चिकित्सक डा सुरभि सिंह ने कहा कि स्वास्थ्य में किसी की महत्वपूर्ण भूमिका हे तो वह आशा बहुओं की हैं। इस मौके पर अच्छा कार्य करने वाली सभी विकास खण्डों की आशा बहुओं व आशा संगिनी को पुरस्कार वितरण किया गया। अतिथियों को मुख्य चिकित्साधिकारी ने स्मृति चिन्ह भेंटकर स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन केशव शिवहरे ने किया। इस अवसर पर आशा संघ की जिलाध्यक्ष वंदना पाण्डेय, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी, उप मुख्य चिकित्साधिकारी, प्रभारी चिकित्साधिकारी सहित संबंधित अधिकारी व आशा, एएनएम मौजूद रहीं।

No comments