Latest News

सड़क दुर्घटनाएं रोकने के लिए प्रशासन गंभीर

बिजनौर (संजय सक्सेना) - जिलाधिकारी रमाकांत पांडे की अध्यक्षता में जनपदीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की गई. जिलाधिकारी ने जनपद में हुई  सड़क दुर्घटनाओं की संख्या वृद्धि प्रतिशत का संज्ञान लेते हुए जनपद के दुर्घटना बाहुल्य स्थानों की गहन समीक्षा की तथा सन्दर्भित सभी स्थानों पर दुर्घटना निवारण एवं पुनरावृत्ति रोकने हेतु सार्थक प्रयास किये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने जनपदीय मुख्यालय के सर्कुलर रोड पर शहर से तहसील मुख्यालय यथा नजीबाबाद, नगीना, चान्दपुर, नूरपुर, नहटौर और एवं धामपुर, नगीना आदि के सभी सम्पर्क मार्गो से जोडने वाली सडकों को गड्ढा मुक्त करने के निर्देश पीडब्ल्यूडी सहित संबंधित अधिकारियों को दिए. 
जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय ने अधिशासी अभियन्ता पीडब्लूडी को निर्देश देते हुए कहा कि सर्कुलर रोड के सभी जंक्शनों पर चारों दिशाओं में ब्लिंकर लाईट लगायी जाये, सभी चौराहों पर दुर्घटना बाहुल्य क्षेत्र के रात्रि में चमकने वाले सुस्पष्ट बोर्ड लगाये जायें और सभी चौराहों पर चारों दिशाओं में रम्बल स्ट्रीप तत्काल बनाये जायें। उन्होंने अधिशासी अभियंता व संबंधित अधिकारी को यह भी निर्देश दिए कि दुर्घटना संभावित सड़कों पर जो संकेत बने हैं उनमें और बेहतर सुधार करें उन्होंने कहा कि पीडब्लूडी इन सभी कार्यो को एक सप्ताह में पूर्ण कर ले ताकि भविष्य में दुर्घटनाओं की संख्या में अपेक्षित कमी आये।
जिलाधिकारी ने दुर्घटना बाहुल्य क्षेत्र पर बोर्ड, रम्बल स्ट्रीप, केैट्स आई एवं यातायात नियम सूचक चिन्ह लगवाने तथा सड़क किनारे स्थित पेड़ों पर भी प्रतिक्षेपक जल्द से जल्द लगवाने के निर्देश संबंधित विभाग को दिये। उन्होंने एआरटीओ को निर्देश दिये कि भविष्य में दुर्घटनाओं की संख्या में अपेक्षित कमी लाने के प्रयास करें और जन सामान्य को सड़क सुरक्षा के बारे में जागरूक करें. 
जिलाधिकारी ने समस्त वाहन चालकों के अभिभावकों से अपील की कि सड़क सुरक्षा कारण व निवारण पर उन्हें  अवगत कराएं जैसे मोबाइल फोन पर बात नहीं करना, हेलमेट पहनना, सीट बेल्ट लगाना आदि. साथ ही जिलाधिकारी ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देश दिए कि स्कूल के बच्चों व स्कूली वाहन चालकों को भी सड़क सुरक्षा कारण निवारण के कार्यक्रम आयोजित कर बताएं. उन्होंने परिवहन विभाग के अधिकारियों  से कहा कि पुलिस विभाग के साथ मिलकर लोगों को जागरूक करने हेतु सीट बेल्ट तथा हेलमेट लगाने हेतु विशेष अभियान चलाएं। जिलाधिकारी ने एआरटीओ को निर्देश दिये कि गन्नों से भरे वाहनों पर प्रतिक्षेपक लगवाना सुनिश्चित करें ताकि गन्ने के सीजन में दुर्घटना में कमी लायी जा सके। 
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि/रा अवधेश कुमार मिश्रा, समस्त उपजिलाधिकारी, एआरटीओ, पुलिस क्षेत्राधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सहित सभी संबंधित अधिकारी व चीनी मिलों से संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।


No comments