Latest News

युवा हो जाएं तैयार, कानपुर में मेट्रो देगा 25 हजार से अधिक लोगों को रोजगार

मेट्रो स्टेशनों के आसपास यूपी मेट्रो रेल कारपोरेशन बड़े पैमाने पर विकास कराता है।...
कानपुर,गौरव शुक्ला:- कानपुर में मेट्रो का चलना महज एक ट्रांसपोर्ट सिस्टम का विकास नहीं होगा। मेट्रो जहां से गुजरेगी, वहां तरक्की की नई इबारत लिख जाएगी। उन क्षेत्रों का भूगोल ही नहीं बदलेगा, वहां रहन-सहन के तौर तरीके, आर्थिक तस्वीर में भी सुखद बदलाव आएगा। खास बात ये है कि शहर में शुरू होने वाली मेट्रो तकरीबन 25 हजार से अधिक लोगों को रोजगार देगी।

लखनऊ में मेट्रो शुरू होने के बाद अब वहां का नजारा बेहद सुखद है, कानपुर भी अब इसी राह पर चल पड़ा है। दरअसल मेट्रो जिस रूट से गुजरती है वहां यूपी मेट्रो रेल कारपोरेशन (यूपीएमआरसी) बड़े पैमाने पर विकास कराता है। इसमें सड़कों का चौड़ीकरण, चौराहों का सुधार, सफाई की बेहतर व्यवस्था, लाइटिंग, फुटपाथ और फुटओवर ब्रिज आदि का निर्माण भी शामिल होता है। यह सब हो जाने से उस पूरे क्षेत्र की तस्वीर बदल जाती है। इससे अप्रत्यक्ष रोजगार पर भारी असर पड़ता है। इसके अलावा इस प्रोजेक्ट के जरिए बड़ी संख्या में अकुशल, कुशल श्रमिकों, इंजीनियरों और ठीकेदारों को भी काम मिलेगा।

सफाई के प्रति जागरूक करती है मेट्रो

मेट्रो के स्टेशन से लेकर ट्रैक तक जिस तरह से स्वच्छता रहती है। उससे आम नागरिक स्वच्छता के लिए प्रेरित होता है। साथ ही इसमें नियमित सफर करने वालों में स्वच्छता एक आदत बनती है।

इस तरह मिलेगा रोजगार

पूरे प्रोजेक्ट में यूपीएमआरसी 1200 लोगों को नौकरी देगा।
परियोजना के साथ परिचालन व रखरखाव में ठीकेदार कंपनियों में रोजगार करीब 20 हजार।
होटल, दुकानों व अन्य व्यवसाय में बढ़ोतरी से करीब पांच हजार नए रोजगार।

मेट्रो रूट पर यह भी फायदे

सड़कें चौड़ी और साफ सुथरी हो जाएंगी।
फुटपाथ और स्ट्रीट लाइट के होंगे बेहतर इंतजाम।
जाम की समस्या से मिल जाएगा छुटकारा।
स्वच्छता और पर्यावरण में होगा भारी सुधार।
रिहायश के हिसाब से ये क्षेत्र होंगे ज्यादा बेहतर।
जमीन और संपत्ति की कीमत में होगा इजाफा।
भवनों के किराए में हो जाएगी बढ़ोतरी।

No comments