14 दिसम्बर को वृहद्व स्तर पर राष्ट्रीय लोक अदालत - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Friday, November 22, 2019

14 दिसम्बर को वृहद्व स्तर पर राष्ट्रीय लोक अदालत

बिजनौर: (संजय सक्सेना) नोडल अधिकारी, राष्ट्रीय लोक अदालत, बिजनौर सुनील कुमार, अपर जिला न्यायधीश की अध्यक्षता में विभागीय नोडल अधिकारियों की एक महत्वपूर्ण बैठक सिविल कोर्ट परिसर बिजनौर स्थित सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यालय कक्ष में आयोजित की गई। बैठक में विमल त्रिपाठी, उ0प्र0 न्यायिक सेवा सचिव, पूर्ण कालिक, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, शंकर दयाल यादव जनरल मैनेजर दूरसंचार, सहायक प्रधान प्रबंधक अभय कुमार गर्ग, एआरटीओ प्रशासन प्रणव झा, एलडीएम सीबी सिंघल, अतिरिक्त मजिस्ट्रेट वीरेन्द्र मौर्य, उपाधीक्षक पुलिस नगर बिजनौर सहित विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधि मौजूद थे। 
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए अपर जिला न्यायधीश सुनील कुमार ने कहा राष्ट्रीय लोक अदालत न्यूनतम खर्च पर त्वरित गति वादों के निस्तारण का बहुत ही सुलभ एवं सक्षम माध्यम है, जिसके द्वारा विभागीय अधिकारी और जनसमान्य अपने वादों का प्रस्तुतिकरण कर लाभ प्राप्त कर सकते हैं। उन्होनंकहा कि राष्ट्रीय लोक अदालत में


प्रस्तुत होने वादों के निस्तारण से एक ओर न्यायालयों का अनावश्यक बोझ कम होता है वहीं दूसरी ओर सुलह समझौते के आधार पर आपसी समंजस्य से वादों के निपटारे से समाज में सहिष्णुता भी पैदा होती है। उन्होंने बताया कि आगामी 14 दिसम्बर, 19 को वृहद्व स्तर पर राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जाएगा, जिसमें प्री-लिटिगेशन मामलों के अन्तर्गत धारा-138 एन0आई0एक्ट, बैंक रिकवरी वाद, लेबर वाद, बिजली पानी बिल, आपराधिक शमनीय वाद, मैट्रीमोनियल विवाद व अन्य दीवानी विवाद तथा न्यायालय में लम्बित आपराधिक शमनीय वाद, धारा-138 एन0आई0 एक्ट के वाद, बैंक रिकवरी वाद, मोटर दुर्घटना क्लेम वाद, लेबर विवाद, बिजली-पानी बिल, मैट्रीमोनियल वाद, भूमि अधिग्रहण वाद, सर्विस प्रकरण, वेतन-भत्ते, राजस्व वाद व अन्य दीवानी वादों का प्रमुखता से सुलह-समझौते के आधार पर निःशुल्क निस्तारण किया जायेगा। उन्होंने उपस्थित सभी विभागीय अधिकारियों का आह्वान किया कि उक्त अवसर पर ज्यादा से ज्यादा वादों का निस्तारण करा कर राष्ट्रीय लोक अदालत को सफल बनाने में अपना सहयोग प्रदान करें।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages